Aaj Ka Choghadiya – आज और कल का चौघड़िया देखें

Aaj Ka Choghadiya – आज और कल का चौघड़िया देखें: जैसे कि आपको पता होगा भारत में आज भी प्राचीन संस्कृति को पूजा जाता है और माना जाता है. इसलिए आज भी किसी भी शुभ कार्य करने से पहले शुभ समय और अशुभ समय देखा जाता है. क्योंकि हमारे हिंदू धर्म में चौघड़िया का एक अलग ही महत्व रहा है इसलिए हमको किसी भी शुभ कार्य करने से पहले आज का चौघड़िया देखना जरूरी माना जाता है.

क्योंकि हिंदू संस्कृति में पहले से ही किसी भी बड़े और विशेष कार्य करने से पहले शुभ मुहूर्त यानी कि किसी भी कार्य करने का शुभ मुहूर्त कौन सा है देखा जाता है. इसीलिए पहले से हि Aaj Ka Choghadiya देखा जाता आ रहा है.

Aaj Ka Choghadiya

जैसे कि आपको पता होगा किसी भी कार्य करने से पहले अगर उस कार्य को करने का शुभ समय देखकर उस कार्य को आरंभ किया जाता है तो वह कार्य सफलतापूर्वक पूर्ण होता है. क्योंकि उस समय ग्रह और नक्षत्र मनुष्य के लिए अच्छे और फलदायक होते हैं.

बात करें इस पोस्ट के बारे में तो इस पोस्ट में हम आपको आज का चौघड़िया दिन का और रात का के बारे में जानकारी प्रदान करने वाले जिससे कि आपको पता चल सके कि आज का शुभ समय कौन सा है और अशुभ समय कौन सा है. इसलिए निचे आपको आज के और कल के चौघडिया की तालिका प्रदान की गई है.

आज का दिनविशेष आज का पंचांग देखे
आज चांद कब निकलेगाआज का चौघड़िया

आज का चौघड़िया क्या हैं – नई दिल्ली 

Aaj Ka Cha Choghadiya Delhi – 15 September 2021

Aaj Ka Choghadiya 15 September 2021
सूर्योदय का समय- 06:05:40
सूर्यास्त का समय- 18:26:48
चंद्रोदय का समय- 14:41:00
चंद्रास्त का समय- 25:00:59
Choghadiya 15 September- दिन 
मुहूर्तसमय
लाभ06:05:35 AM – 07:38:008 AM
अमृत07:38:008 AM – 09:10:41 AM
काल09:10:41 AM – 10:43:14 AM
शुभ10:43:14 AM – 12:15:47 PM
रोग12:15:47 PM – 01:48:19 PM
उद्वेग01:48:19 PM – 03:20:52 PM
चर03:20:52 PM – 04:53:25 PM
लाभ04:53:25 PM – 06:25:58 PM
Choghadiya 15 September- रात
मुहूर्तसमय
उद्वेग06:25:58 PM – 07:53:25 PM
शुभ07:53:25 PM – 09:20:52 PM
अमृत09:20:52 PM – 10:48:19 PM
चर10:48:19 PM – 12:15:47 AM
रोग12:15:47 AM – 01:43:14 AM
काल01:43:14 AM – 03:10:41 AM
लाभ03:10:41 AM – 04:38:008 AM
उद्वेग04:38:008 AM – 06:05:35 AM

दोस्तों पर हमने आज के चौघड़िया के बारे में जानकारी दी जहां पर हमने आपको दिन का चौघड़िया और इसी के साथ साथ रात का चौघड़िया क्या है के बारे में जानकारी दी अब नीचे हम जानेंगे कि कल का चौघड़िया(Kal Ka Choghadiya ) क्या है.

Aaj Ka Choghadiya 16 September 2021
सूर्योदय का समय- 06:06:11
सूर्यास्त का समय- 18:25:37
चंद्रोदय का समय- 15:37:00
चंद्रास्त का समय- 26:04:59
Choghadiya 16 September- दिन 
मुहूर्तसमय
शुभ06:06:005 AM – 07:38:25 AM
रोग07:38:25 AM – 09:10:45 AM
उद्वेग09:10:45 AM – 10:43:005 AM
चर10:43:005 AM – 12:15:25 PM
लाभ12:15:25 PM – 01:47:45 PM
अमृत01:47:45 PM – 03:20:005 PM
काल03:20:005 PM – 04:52:25 PM
शुभ04:52:25 PM – 06:24:44 PM
Choghadiya 16 September- रात
मुहूर्तसमय
अमृत06:24:44 PM – 07:52:25 PM
चर07:52:25 PM – 09:20:005 PM
रोग09:20:005 PM – 10:47:45 PM
काल10:47:45 PM – 12:15:25 AM
लाभ12:15:25 AM – 01:43:005 AM
उद्वेग01:43:005 AM – 03:10:45 AM
शुभ03:10:45 AM – 04:38:25 AM
अमृत04:38:25 AM – 06:06:005 AM

Aaj Ka Choghadiya – आज और कल का चौघड़िया देखें

तो बात करें चौघड़िया कैसे देखा जाता है के बारे में तो आपको बता चौघड़िया हमारे हिंदू कैलेंडर पंचांग का ही एक मुख्य रूप है यानी कि हिंदू कैलेंडर का ही एक मुख्य अंग है. अगर किसी विशेष कार्य को करने से पहले जब शुभ मुहूर्त देखा जाता है तब कभी-कभी उस कार्य करने को शुभमुहूर्ता नहीं निकलता और वह कार्य उसी तिथि पर करना आवश्यक होता है तब चौघड़िया की आवश्यकता पड़ती है.

आज और कल का चौघड़िया देखें

चौघड़िया देखकर किया गया कोई भी कार्य सफलतापूर्वक पूर्ण होता है और चौघड़िया में देखे हुए शुभ मुहूर्त मैं शुरु के सभी कार्य सर्वश्रेष्ठ परिणाम आने की संभावना ज्यादा होती है. इसलिए भारतीय संस्कृति में पंडितों द्वारा चौघड़िया को विशेष दर्जा दिया है और इसीलिए किसी भी कार्य करने से पहले दिन का चौघड़िया (Din Ka Choghadiya) और रात का चौघड़िया (Rat Ka Choghadiya) देखा जाता है.

क्योंकि आपने देखा होगा हर दिन कोई ना कोई शुभ मुहूर्त होता ही है और अशुभ मुहूर्त होता है. इसीलिए किसी भी कार्य करने से पहले शुभ मुहूर्त को पहले देखा जाता है और उसके बाद ही वह कार्य किया जाता है Choghadiya का उपयोग ज्यादातर समय यात्रा का मुहूर्त निकालने के लिए किया जाता है क्योंकि हर साल सभी देवी देवताओं की यात्रा होती है इसीलिए जो गुड़िया देख कर ही उसका मुहूर्त निकाला जाता है.

चौघड़िया निकालते समय सूर्योदय और सूर्यास्त का समय को ध्यान में रखकर ही उसके शुभ और अशुभ मुहूर्त निकाले जाते हैं. इसी के आधार पर चौघड़िया के दो प्रकार पढ़ते हैं जो कि है रात का चौघड़िया और दिन का चौघड़िया.

जिसके आपको पता होगा सुबह सूरज निकलने से लेकर शाम को सूरज डूबने तक के समय को दिन का चौघड़िया कहा जाता है और सूरज डूबने से लेकर सूरज उगने तक के समय को रात का चौघड़िया कहा जाता है. ताकि उसी के आधार पर आज का शुभ मुहूर्त चौघड़िया के बारे में जानकारी मिल पाए.

चौघड़िया के प्रकार

बात करें चौघड़िया के कितने प्रकार होते हैं के बारे में तो आपको बता दो जो गोरिया के हिंदू वैदिक में सात प्रकार है जो कि लाभ, चर, उद्वेग, रोग, शुभ, अमृत, काल है. तो इनके बारे में हम इस साल से नीचे जानेंगे कि कौन सा प्रकार शुभ व अशुभ मुहूर्त को दर्शाता है.

लाभ चौघड़िया – लाभ चौघड़िया को स्वामी ग्रह बुध होता है जोकि शुभ व लाभकारी ग्रह माना जाता है. इसी के कारण इस चौघड़िया को लाभ के चिन्ह के रूप में तथा लाभ चौघड़िया को अच्छे हेतु के तत्व पर माना जाता है.

चर चौघड़िया – चर चौघड़िया स्वामी शुक्र ग्रह होता है जिसको लाभकारी ग्रह माना जाता है क्योंकि चौघड़िया में इसे चंचल के रूप में चिन्हित किया गया है इसीलिए इस चौघड़िया के मुहूर्त पर किए गए कार्य को उत्तम माना जाता है.

उद्वेग चौघड़िया – सरकारी और प्रशासकीय कार्यों में इस चौघड़िया को बहुत माना जाता है क्योंकि उद्वेग चौघड़िया का स्वामी ग्रह सूर्य होता है. जोकि वैदिक ज्योतिष में अनिष्टकारी होता है.

रोग चौघड़िया – जिसकी आपको पता होगा चौघड़िया में इस रोग चौघड़िया को रोग के रूप में चिह्नित किया जाता है. इसीलिए इसको अशुभ मुहूर्त भी कहा जाता है. इस चौघड़िया का स्वामी ग्रह मंगल होता है. जिसे क्रूर और अनिष्टकारी माना जाता है. इसीलिए इस चौघड़िया पर किसी भी शुभ कार्य को नहीं किया जाता.

शुभ चौघड़िया – इस चौघड़िया नाम से ही आपको पता चल जाए कि इसे शुभ चौघड़िया के रूप में चिन्हित किया जाता है शिव चौक का स्वामी ग्रह बृहस्पति होता है जिससे शुभ और लाभकारी ग्रह माना जाता है.

काल चौघड़िया – काल चौघड़िया का स्वामी ग्रह शनि होता है जिसको ज्यादातर समय अशोक माना जाता है क्योंकि ज्योतिषी के अनुसार शनि को अनिष्ट कारी ग्रह माना जाता है इसीलिए इस चौघड़िया को काल के रूप में चिन्हित किया जाता है और इसी चौघड़िया के समय पर शुभ कार्य को नहीं किया जाता है.

अमृत चौघड़िया – अनुकूल चौघड़िया इसके नाम के अनुसार ही अनुकूल होता है इस चौघड़िया के समय पर किए गए कार्य को शुभ माना जाता है इस चौघड़िया को अमृत के रूप में चिन्हित किया जाता है इस के स्वामी ग्रह चंद्रमा होते हैं.

तो दोस्तों यहां पर हम हमारी इस Aaj Ka Choghadiya – आज और कल का चौघड़िया देखें पोस्ट को समाप्त करते हैं उम्मीद है आपको आज का चौघड़िया क्या है और कल का चौघड़िया क्या है के बारे में संपूर्ण जानकारी मिल गई हो.

Leave a Comment