अकबर का वित्त मंत्री कौन था, Akbar ka vitt mantri kaun tha – अकबर के 9 रत्न

अकबर का वित्त मंत्री कौन था, Akbar ka vitt mantri kaun tha – अकबर के 9 रत्न के बारे में पूरी जानकारी इसके साथ Akbar ka vitt mantri ka kya nam tha जानेगे.

दोस्तों आपको मुगल राजा अकबर के बारे में तो जानते होगे और इसी के साथ-साथ अकबर के दरबार में के 9 रत्नों के बारे में जरूर जानते होंगे अगर नहीं जानते तो कोई बात नहीं दोस्तों इस पोस्ट में हमने उसी के बारे में बताइए हैं. इसी के साथ साथ हम आपके साथ अकबर का वित्त मंत्री कौन था इसके बारे में भी बताएंगे. अकबर कों मुग़ल सल्तनत का सबसे शक्तिशाली राजा माना जाता था और इसी के साथ साथ उसको अच्छा राजा भी माना जाता है.

अकबर के 9 रत्न के नाम – Akbar ke 9 Ratn ke naam

Akbar ka vitt mantri kaun tha

सबसे पहले हम मुगल राजा अकबर के नौ रत्नों के नाम जानेंगे जो कि अकबर के साथ काम करते थे. अकबर के नौ रत्नों अपने-अपने कला में माहिर थे इसलिए अकबर ने उनको अपने साथ रखा था अकबर का सबसे वफादार और सबसे करीब बीरबल थे जो कि अकबर के एक सल्हागर थे. बीरबल बुधी में तेज और विद्वान रत्नों में से थे. अकबर ने सभी रत्नों कों उनके बुधी के अनुसार प्रमुख बनाया था.

  1. बीरबल(1528-1583)
  2. अबुल फ़ज़ल(1551-1602 )
  3. टोडरमल:- राजा टोडरमल अकबर के वित्त मंत्री थे
  4. तानसेन
  5. मानसिंह
  6. अब्दुर्रहीम ख़ानख़ाना.
  7. मुल्ला दो प्याज़ा
  8. हक़ीम हुमाम
  9. फैजी

अकबर का वित्त मंत्री कौन था, Akbar ka vitt mantri kaun tha

जिसे आपने ऊपर अकबर के नौ रत्नों के बारे में और उनके नामों के बारे में जाना अब हम अकबर के वित्त मंत्री के बारे में जानेंगे इसके साथ उनका नाम (Akbar ka vitt mantri kaun tha) और इनके जीवन परिचय के बारे में जानगे.

अकबर के वित्त मंत्री राजा टोडरमल थे

राजा टोडरमल का जीवन परिचय

राजा टोडरमल का जी का जन्म उत्तर प्रदेश के एक छोटे से शहर सीतापुर के लहार में हुआ था. उन्होंने अपने जीवन में बहुत ही उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ा क्योंकि उनके पिताजी की मृत्यु राजा टोडरमल जी के छोटे होने के समय ही हुई. उनको अपने जीवन की शुरुआत कमरों में रखी करनी पड़ी.

राजा टोडरमल का जीवन परिचय

अपने जीवन में सबसे पहले उन्होंने शेरशाह सूरी का मान जित लिया और उसके खास बन गए इसके साथ-साथ शेरशाह सूरी ने उन पर प्रसन्न होकर उन को पंजाब के रोहतक में एक नई किले का निर्माण करने के लिए भेज दिया जहां पर उन्होंने वहां पर मुगलों पर हमला किया और वहां से मुगलों को खदेड़ दिया और अच्छे युद्ध नीति का उपयोग करके अच्छे-अच्छे युद्ध जीत ले उसके बाद जब मुगल राजा ने पूरी ताकत के साथ सूरी साम्राज्य पर आक्रमण किया तो सूरी साम्राज्य परस्त हो गया इसके साथ-साथ राजा टोडरमल को शरण जाना पड़ा.

जब राजा टोडरमल मुगलों में शामिल हो गए तो वह उनके भी खास हो गए और अकबर ने उनको गुजरात के राज्यपाल की पदवी दे दी इसी के साथ साथ वहां पर भी राजा टोडरमल में अच्छा काम किया और अपनी प्रतिभा उछा ली और इसी बात को ध्यान में रखते हुए आखिर अकबर ने राजा टोडरमल को अपना वित्त मंत्री नियुक्त किया.

राजा टोडरमल जी अकबर के वित्त मंत्री होते समय नई राजस्व प्रणाली निर्माण की जो कि अब तक की सबसे अच्छी राजस्व प्रणाली मानी जाती है इसी के साथ-साथ राजा टोडरमल जी की ख्याती पूरे अकबर साम्राज्य में फैल गई. इसी के साथ-साथ अकबर ने उनको अपने नौ रत्नों में शामिल कर लिया. राजा टोडरमल जी के जीवन काल में उन्होंने उत्तर प्रदेश में एक किले का निर्माण किया था.

तो दोस्तों यहां पर हम हमारी इस अकबर का वित्त मंत्री कौन था, Akbar ka vitt mantri kaun tha पोस्ट को समाप्त करते हैं आशा करते आपको Akbar ka vitt mantri kaun tha के बारे में पूरी जानकारी दे पाए इसके साथ-साथ राजा टोडरमल जी के जीवन परिचय के बारे में भी आप थोड़ा बहुत जान गए होंगे अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो हमें कमेंट में जरूर बताना और आपको अगर इसी तरह किसी और संबंधित के बारे में जानकारी चाहिए तो आपका में कमेंट में.

इसे जरुर पढ़े :

Leave a Comment