भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है 2021

भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है: दोस्तों किसी की आपको पता होगा भारत विविधताओं का देश है इसलिए भारत में वह सारी संस्कृति भाषा का जन्म हुआ है आज हम भारत में बोली जाने वाली भाषाएं कितनी है के बारे में जानकारी देंगे इसलिए आप इस पोस्ट को जरूर पढ़ें.

वैसे तो भारत में बहुत सारी भाषाएं बोली जाती है लेकिन भारत में 22 मुख्य भाषाएं हैं जो ज्यादातर बोली जाती है. भारत में कुछ राज्य अपने भाषाओं के लिए मशहूर है और सभी भाषाओं में आपको अलग-अलग विभिन्न नेताओं का और संस्कृति का मेल दिखेगा और आपको यह भी जानकर खुशी होगी कि सभी भाषाये भाषा हिंदी पर ही आधारित है. अभी तक भारत की कोई भी राष्ट्रभाषा नहीं है.  बहुत लोग हिंदी को हमारी भारत की राष्ट्रभाषा कहते हैं लेकिन ऐसा नहीं है. दूसरे देशों में अक्सर एक ही भाषा पूरे देश में बोली जाती है लेकिन हमारे भारत देश में परंपराओं के कारण और विविधताओं के कारण बहुत सारे भाषाएं आपको अलग-अलग प्रांतों में बोलते हुए दिखाई देगी.

भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है

आपने जरूर देखा होगा कि जिस भी प्रांत में जो भाषा बोली जाती है उस भाषा के आधार पर ही उस प्रांतों के लोगों को संबोधित किया जाता है. जिसकी आपको पता होगा भारत के उत्तर मध्य में ज्यादातर हिंदी भाषा बोली जाती है और भारत के दक्षिण में कन्नड़ हिंदी तेलुगू  मलयालम तमिल भाषा बोली जाती है और महाराष्ट्र में मराठी, गुजरात में गुजराती येसे विविध भाषाए विविध राज्यों में बोली जाती है.

लेकिन भारत में ज्यादातर हिंदी भाषा बोली जाती है. इसी के साथ और भी अन्य भाषाएं बोली जाती है इसके भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है बारे में हम आपको इस पोस्ट में बताने वाले हैं.

भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है

दोस्तों भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है के बारे में जानना बहुत मुश्किल है  क्योंकि  भारत में बहुत सारी भाषाएं बोली जाती है. भारत में भाषाओं का बहुत बड़ा इतिहास है. भारत की भाषाओं का उगम हजार साल पहले हुआ था. इसलिए भारत में भाषा संबंधित बहुत सारे साहित्य मौजूद है और सभी साहित्य अलग-अलग भाषाओं में उपलब्ध है. 

बात करें भारत सरकार द्वारा  मान्यता प्राप्त हुई भाषाओं के बारे में भारत के संविधान में सिर्फ 22 भाषाओं को मान्यता प्राप्त है. आपने देखा होगा कि अगर कोई भी सरकारी काम करना हो तो आपको ज्यादातर हिंदी या इंग्लिश भाषा का उपयोग किया गया दिखता है.  क्योंकि भारत में इंग्लिश/हिंदी ज्यादातर मुख्य भाषा के रूप में बोली और समझी जाती है.  लेकिन हालांकि राज्य सरकार द्वारा  अपने नागरिक को  उस राज्य की राज्य भाषा में सभी  जानकारी दे दी जाती है. अगर आप संविधान में देखते हो तो संविधान में 22 भाषाओं का उल्लेख किया गया आपको दिखेगा.

भारत की 22 मुख्य भाषाएँ | 22 Languages of India in Hindi

आप जानते हैं कि वह कौन सी भाषा है जो भारत में ज्यादातर बोली और समझी जाती है. जिसके बारे में संविधान में भी उल्लेख है.

  • हिंदी
  • बंगाली
  • असमिया
  • बोडो
  • डोंगरी
  • गुजराती
  • तमिल
  • तेलुगू
  • उर्दू
  • हिंदी
  • संथाली
  • संस्कृत
  • पंजाबी
  • ओरिया
  • नेपाली
  • मराठी
  • मणिपुरी
  • मलयालम
  • मैथिली
  • कश्मीरी
  • कन्नडा
  • कोकड़ी

तो यह सभी भारत के 22 मुख्य भाषाएं हैं जो ज्यादातर भारत की आबादी द्वारा समझी और बोली जाती है इसमें से कई भाषाए राज्य की राज्य भाषा भी है. भारत में हिंदी को बहुत ही ज्यादा बोला जाता है इसलिए हिंदी को भारत में मुख्य भाषा भी कहा जाता है और इसका ज्यादातर इस्तेमाल सरकारी कर्मचारी कार्यालय में किया जाता है.

तू यहां पर हमने भारत में कुल कितनी भाषा बोली जाती है जाना अगर आपको भारत संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो आप हमें कमेंट में पूछ सकते हैं और इस जानकारी को आपके दोस्तों के साथ शेयर जरूर कर सकते हैं यहां पर हमने भारत के 22 भाषाओं के बारे में आपको जानकारी दे दी है.

Leave a Comment