Hari ka shabd roop in Sanskrit – हरि शब्द रूप

Hari ka shabd roop in Sanskrit – हरि शब्द रूप : ‘हरि’ इकारान्त पुंल्लिग शब्द हैं . हरि का जन्म छतरपुर (मध्य प्रदेश) में सन ई० में एक कान्यकुब्ज ब्राह्मण वंश में हुआ था. पालन-पोषण एवं शिक्षा ननिहाल में घर पर ही हुई. वियोगी हरि ने हैं.

Hari ka shabd roop in Sanskrit

Hari ka shabd roop in Sanskrit

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमाहरिः हरी हरयः
द्वितीया हरिं हरी हरीन्
तृतीया हरिणाहरिभ्याम् हरिभिः
चतुर्थी हरये हरिभ्याम् हरिभ्यः
पंचमी हरेः हरिभ्याम् हरिभ्यः
षष्ठी हरेः हर्योः हरीणां
सप्तमीहरौहर्योः हरिषु
सम्बोधन हे हरे! हे हरी! हे हरयः!

हरि शब्द रूप

Hari ke shabd roop in Sanskrit
अन्य शब्द रूप –

Leave a Comment