कुंती के कितने पुत्र थे? – Kunti Ke Kitne Putra The Unke Naam

Kunti Ke Kitne Putra The Unke Naam: अगर आपने महाभारत देखि या पढ़ी है तो आप 5 पांडव कों जरुर जानते होगे. लेकिन क्या आप जानते है की माता कुंती के कितने पुत्र थे. अगर नाह जानते तो कोई बात नहीं इस पोस्ट में हम आपको इसी के बारे में बनाते वाले है की Kunti Ke Kitne Putra The Unke Naam.

Kunti Ke Kitne Putra The Unke Naam

माता कुंती राजा पांडू की पत्नी थी. लेकिन राजा पांडू से कुंती कों संतान प्राप्ति नहीं हो सकती थी. इसलिए माता कुंती ने पुत्र प्राप्ति के लिए देव-देवताओं की सेवा की और उनसे पुत्र प्राप्ति मागी. इससे माता कुंती कों 4 पुत्रो की प्राप्ति हुई. लेकिन सूर्य देव के आशीर्वाद से माता कुंती कों विवाह से पहले हि पुत्र प्राप्ति हुई थी जिसे हम कर्ण के नाम से जानते है.

Kunti Ke Kitne Putra The Unke Naam

कुंती के कितने पुत्र थे?

माता कुंती कों 4 पुत्र थे तथा माता मादरी कों 2 पुत्र थे.

कुंती के पुत्र के नाम क्या थे?

  1. कर्ण – श्री सूर्यदेव जी के पुत्र थे
  2. युधिष्ठिर – श्री धर्मराज जी के पुत्र थे
  3. भीम – श्री पवनदेव जी के पुत्र थे
  4. अर्जुन – श्री इन्द्रदेव जी के पुत्र थे

माता मादरी के पुत्र के नाम क्या थे?

  1. नकुल
  2. सहदेव

इसे पढ़े : महाभारत के लेखक कौन हैं | Mahabharat ke Lekhak Kaun Hai

अगर आपको पता महाभारत तो आप जरुर जानते होगे की जो 5 पांडव थे उनमे से माता कुंती 3 पांडव की माता और 2 की विमाता थी. क्यूकी कर्ण कुरुशेत्र में गौरवो के साथ खड़ा था. इसके पचात्त की वह भी एक पांडव हि था. जिसको उसके भाई अर्जुन ने हि कृष्ण के आदेश के अनुसार मारा था. कर्ण सूर्य का पुत्र था उसे कोई परास्त नहीं कर सकता था इसलिए कृष्ण अर्जुन कों अधर्म से कर्ण मारने कों कहा और अर्जुन ने भी वैसा हि किया था.

क्यूकी अर्जुन पुत्र अभिमन्युं कों गौरवो ने अधर्म से मारा था.

इसे जरुर पढ़े :

दोस्तों इस आर्टिकल में कुंती के कितने पुत्र थे के बारे में जानकारी इसीके साथ Kunti Ke Kitne Putra The Unke Naam आपके साथ शेयर किया है इस आर्टिकल को लिखने का हमारा उद्देश्य सिर्फ यह है कि आज तक अधिकतम और अच्छी जानकारी आप तक पहुंचा पाए अगर आपको इस तरह और भी जानकारी चाहिए तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं हम आपके लिए ऐसी अधिकतम जानकारी लाते रहेंगे.

Leave a Comment