About Us

हिंदी सहयोग क्या है?

हिंदी सहयोग यह एक हिंदी ब्लॉगिंग वेबसाइट जहां पर आपको Blogging से Related, दिनविशेष, टेक्नोलॉजी, मनोरंजन, Seo Tips, बायोग्राफी समाचार और Online पैसे कमाने के बारे में संपूर्ण जानकारी एक जगह मिलेगी. हमारी हिंदी सहयोग की पूरी टीम हमारे पाठकों को विभिन्न विषयों की सभी जानकारी देने का वक्त प्रयास करती है. हिंदी सहयोग के सभी एडिटर अपने अपने फिल्ड में ग्रेजुएट की पदवी हासिल की है. हिंदी सहयोग के टीम में पूरे 5 मेंबर है. जिनमें से सभी ने कंप्यूटर इंजीनियर की डिग्री हासिल की है. लेकिन हम सभी ने कहीं पर जॉब करने से बेहतर लोगों को अच्छी जानकारी देना उचित समझा.

इसलिए हमने इस Hindisahyog ब्लॉग को शुरू किया है जहां पर हम आपको जीवन परिचय, त्योहार, सामान्य ज्ञान, सरकारी योजना, कविताएं, कहानियां और पैसे कैसे कमाए संबंधित विषयों पर सभी जानकारी सरल और हिंदी भाषा में देते है. किसी भी जानकारी को लिखने से पहले हमारे सभी लेखक पूरी तरह से उस जानकारी संबंधित पूरी रिसर्च करते हैं उसके बाद ही पर उस जानकारी को हिंदी सहयोग ब्लॉग पर प्रकाशित किया जाता है.

तो दोस्तों यह तक आपने जाना कि हम हिंदी सहयोग इस ब्लॉग पर आपको किस विषय से संबंधित जानकारी शेयर करते हैं. तो अब मैं आपको बताने जा रहा हूं कि मैं ब्लॉगर कैसे बना मतलब कि मैं इस ब्लॉगिंग में फिल्ड कैसे आया.

मेरे बारे में – About Me

मेरा नाम गणेश राउत है और मैं महाराष्ट्र राज्य के पुणे शहर का रहने वाला हूं. मैंने मेरी Computer Engineering की पढ़ाई Pune University [SPPU] से पूरी की है. जैसे ग्रेजुएशन के बाद हर स्टूडेंट का सपना होता है कि अच्छी सी जॉब करना लेकिन मुझे जॉब नहीं करना था. इसलिए मैंने इस वेबसाइट को शुरू किया जहां पर हम हमारी HindiSahyog की टीम विभिन्न विषयों की सभी जानकारी आपके साथ शेयर करती हैं. जिससे कि आपको अधिकतम और अच्छी जानकारी मिले. हमको खुशी है कि हम लोगों को अच्छी और पूरी जानकारी दे पाते जिससे कि उन्हें सभी चीजों के बारे में जानकारी मिले.

में ब्लॉगर कैसे बना –

जैसे की हर blogger की स्टोरी होते हैं वैसे भी मेरी भी एक स्टोरी है कि मैं ब्लॉगर कैसे बना, तो ग्रेजुएशन के बाद जहां पर मैं सोच रहा था कि कुछ अलग करना है तब मैं इंटरनेट पर देख रहा था कि क्या कुछ नया कर सकते हैं. जिससे कि मेरी एक अलग पहचान बन पाए तब मैंने देखा कि ब्लॉगिंग एक ऐसी फिल्ड है. जहां पर हम हमारी एक अलग पहचान बना सकते हैं और मुझे पहले से ही पढ़ने का बहुत शौक था, अलग-अलग जानकारी पढ़ने का शौक था. तो मैंने सोचा की क्यू ना इसा सभी जानकारी हो लोगो से साथ करू. इसलिए मैंने ब्लॉगिंग करने का सोचा और मैंने ब्लॉगिंग में कदम रख दिया.

किस तरह बना HindiSahyog ब्लॉग –

जब मैंने सोचा कि मुझे आगे ब्लॉगिंग ही करनी है तब मैं सोच रहा था कि ब्लॉगिंग में क्या कर सकते हैं. इसलिए मैं इंटरनेट पर सर्च करना था यूट्यूब पर वीडियो देख रहा था. तब मैंने देखा कि लोगों को हमारी मातृभाषा हिंदी में जानकारी पढ़ने को अच्छा लगता है. इसलिए मैंने सोचा कि क्यों ना हिंदी में ही एक अच्छा सा ब्लॉग बनाया जाए जहां पर मैं लोगों को जीवन परिचय, त्योहार, सामान्य ज्ञान, सरकारी योजना, कविताएं, कहानियां और पैसे कैसे कमाए के बारे में संपूर्ण जानकारी सरल हिंदी भाषा में दे पाऊं तभी मैंने हिंदी संयोग को शुरू किया.

जैसे ही हमने हिंदी सहयोग इस ब्लॉग की शुरुआत की तब हमें वह सारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा जैसे कि हमें यह SEO, Content Writing, Blogging and Ranking के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी. इसलिए हमें पहले बहुत सारी मुश्किलों का सामना करना पड़ा लेकिन हमने हार नहीं मानी और हमने सीखने पर ध्यान दिया और जो भी हम सकते थे उसे नॉलेज कों हम हिंदी सहयोग में इस्तेमाल करते थे. उसी का यह उदाहरण है कि आज भी Hindi Sahyog एक सक्सेसफुल बन चुका है.